There was an error in this gadget

Tuesday, 27 June 2017

श्री काली माता मंदिर ,पटियाला

श्री काली माता मंदिर ,पटियाला ,पंजाब का दरभंगा से वही सम्बन्ध है जो कप्तान अमरिंदर सिंह मुख्यमंत्री का श्री काली माता मंदिर से है l पटियाला के महाराज भूपेन्द्र सिंह के पोता है पंजाब के  वर्तमान मुख्यमंत्री कैप्टेन अमरिंदर सिंह जी l तंत्र को पश्चिमी जगत को परिचित कराने वाले जॉन वुडरुफ्फ़ पेन नाम  आर्थर अवलोन
 जिनकी तंत्र पर लिखी किताब ने पश्चिमी जगत को तंत्र को विज्ञान मानने पर बाध्य कर दिया और लोगों को तंत्र के प्रति आकर्षित किया ने अपनी किताब में यह लिखा है कि १९०८ में तंत्र पर हुए कांफ्रेंस में दरभंगा में महाराजा रमेश्वर सिंह जो एक सिद्ध तांत्रिक थे जिन्होंने बाढ़ से बचाने के लिए अपनी साधना से नदी की दिशा बदल दी थी  और महाराजा भूपेंद्र सिंह जिन्हें महाराज रमेश्वर सिंह ने शाक्त बनाया था भी उपस्थित थे l महाराजा रमेश्वर सिंह माँ काली के बड़े उपासक थे माँ काली श्री दुर्गा के एक रूप हैं अर्गला स्तोत्र में काली के रूप में आया है   और  तंत्र साधना  की देवी है  इन्होने अपने राजप्रसाद राजनगर , पुराना दरभंगा  में काली की उजले संगमरमर की भव्य मंदिर बनाये थे जैसा कहीं देखने को कहीं नहीं मिलती l महाराजा के चिता पर भी माँ श्यामा काली की भव्य मूर्ति स्थापित है l महाराजा के देहांत के बाद १९३६ में  महाराजा भूपेंद्र सिंह जी ने ६ फीट ऊँची श्री काली माता की मूर्ती पावन ज्योति ,कोलकाता , बंगाल से बनवा कर  पटियाला में प्रतिष्ठित करायी जहाँ उन्होंने  बलि प्रदान की थी  l  इस परिसर के बीच में राज राजेश्वरी मंदिर भी है l राजनगर में भी राज राजेश्वरी मंदिर अवस्थित है l दरभंगा में १९३४ के भूकंप के बाद माँ कंकाली की मंदिर सरदार   इन्द्रजीत सिंह ने बनवाया था l महाराजा भूपेंद्र सिंह एक सिख शासक  थे पर उन्होंने  तंत्र के किताब के प्रकाशन संस्था अगम अनुसंधन समिति ,कोलकाता को आर्थिक फंडिंग की थी  जिसके प्रेसिडेंट महाराजा रमेश्वर सिंह थे जिसने तंत्र की  कई पुस्तक जिसमे आर्थर अवेलोन की पुस्तक भी थी प्रकाशित की थी और हिन्दू यूनिवर्सिटी सोसाइटी को  हिन्दू विश्वविद्यालय के निर्माण हेतु  लाखों रूपये चंदा दिये था  जिसके  अध्यझ महाराजा रमेश्वर सिंह थे l     उनके द्वारा श्री माता काली का मंदिर का निर्माण उनका दरभंगा  संपर्क था जो  हिन्दू -सिख भाई चारे का अनुपम मिसाल है l यह मंदिर एक भव्य प्रांगन जिसमे सरोवर भी है ,पटियाला सिटी  के मॉल रोड पर बिरादरी गार्डन के सामने  है l

No comments:

Post a Comment